क्या हम युद्ध के मुहाने पर हैं

28_02_2019-airforce27_18997249_03125511

क्या हम युद्ध के मुहाने पर हैं
pakistan के लिए इमेज परिणाम
भारत और पाकिस्तान में तनाव की रेखाएं खींची है दोनों तरफ से सैन्य कार्रवाई जारी है पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद भारत की ओर से जवाब में आतंकी ट्रेनिंग कैंप को निशाना बनाते हुए हवाई हमला किया गया जवाब में पाकिस्तान भी आक्रामक तेवर में आ गया ऐसे में एक सवाल सभी के मन और मस्तिष्क में कौंध े रहा है कि क्या युद्ध होगा?? क्या हम सभी युद्ध के मुहाने पर हैं??
अज्ञातदर्शन ने ग्रह स्थितियों के माध्यम से विश्लेषण करने कि कोशिश की । प्रसिद्ध भविष्यवक्त ा नास्त्रेदमस ने तीसरे विश्व युद्ध की भविष्यवाणी करते हुए कहा है कि कि एक व्यक्ति तमाम हत्यारों दस्तावेज लेकर इटली के तट पर पहुंचेगा तथा युद्ध की शुरूआत करेगा यह काफिला बहुत दूर से इतालवी तट पर आयेगा। ज्योतिष और भौगोलिक दृष्टि से देखें तो 2020 के आसपास इस तरह की ग्रह स्थितियां बनेगी जिसका आगाज हो चुका है। 2020 में शनि का राशि मकर राशि में रहेंगे बृहस्पति भी अपनी नीच राशि में होकर पापपीडित रहेगें। इन दोनों मंदगामी ग्रहों की युति व विशेष योगायोगों के साथ युति के परिणाम घातक रहेंगे। यह युति मकर राशि में अत्यंत दुर्लभ व दुष्कर है। जहां एक ग्रह स्वगृही तथा दूसरा ग्रह नीच का है। इस कारण यदि ग्रह स्थिति पर दृष्टि डाले तो विश्व युद्ध का केन्द्र बिंदु 2019 से 2024 के मध्य का समय रह सकता है।
नास्त्रेदामस की भविष्वाणी के अनुसार तीसरा विश्व युद्ध मेसोपोटानिया की पवित्र भूमि से छिड़ेगा। ईश्वर विरोधी ही तीसरा विश्व युद्ध करेंगे। मिडिल ईस्ट दुनियां की जंग का मैदान बन जायेगा। जहां दुनिया भर की ताकते अपना शक्ति प्रदर्शन करेगी। विश्व की कट्टर विरोधी ताकते जैसे अमेरीका, रूस एक होकर दुनियां में शांति लाने के लिए आतंकवाद के खिलाफ खड़े होंगे। नास्त्रेदामस आगे लिखते है- एक देश में जनक्रांति नया नेता सत्ता संभालेगा (यह मिस्त्र में हो चुका है), नया पोप दूसरे देश में बैठेगा (यह भी हो चुका है), मंगोल (चीन) चर्च के खिलाफ युद्ध छेड़ेगा (चीन का अमेरीका के खिराफ छù युद्ध जारी है) नया धर्म (इस्लाम) चर्च के खिलाफ भारी मारकाट करते हुए इटली और फ्रांस तक जा पहंुचेगा तब तृतीय विश्व युद्ध शुरू होगा।
नास्त्रेदामस के अनुसार चीन और अरब का गठजोड़ विश्व में तबाही लायेगा। जब तृतीय विश्व युद्ध चल रहा होगा उस दौरान चीन के रासायनिक हमले से एशिया में तबाही और मौत का मंजर होगा। ऐसा होगा जो आज तक कभी नहीं हुआ।
ऐसे में एक भविष्यवाणी भी आती है। यह भविष्यवाणी क्लैयर वोयेट हाॅरेसियो ने की है। यह पहले भी ट्रम्प के अमेरिका के राष्ट्रपति बनने की भविष्यवाणी कर चुके है। हाॅरेसियों ने ट्रम्प के राष्ट्रपति बनने से लेेकर अमेरीका सिरीया पर हमला करेगा, जैसी कई भविष्यवाणी भी की है।
हाॅरेसियों की भविष्यवाणी भी इसी तरह के संकेत कर रही है। ज्योतिषीय खगोलिय दृष्टि से 2020 के आस-पास इस तरह की ग्रह स्थिति बनेगी। शनि स्वराशि (मकर) में रहेंगे। बृहस्पति भी नीचस्थ होकर पाप पीड़ित होंगे। दोनों मंदगामी ग्रहों की युति व विशेष योगायोगों के साथ युति के परिणाम घातक रहेंगे। यह युति मकर राशि में अत्यंत दुर्लभ व दुष्कर है। जहां एक ग्रह स्वगृही तथा दूसरा ग्रह नीच का है। इस कारण यदि ग्रह स्थिति पर दृष्टि डाले तो विश्व युद्ध का केन्द्र बिंदु 2019 से 2024 के मध्य का समय रह सकता है।

संबंधित इमेज

क्या हम युद्ध के मुहाने पर हैं

अगर युद्ध होता है तो संभव है कि न्यूक्लियर हथियारों का इस्तेमाल व उपयोग किया जाए। अमेरीका अफगानिस्तान पर डव्।ठ गिरा चुका है। ऐसे में संभव है कि ट्रम्प न्यूक्लियर कोड्स का इस्तेमाल करें।
रूस परमाणु अस्त्र में सबसे बड़ी ताकत है। तीसरे विश्व युद्ध में रूस, अमेरीका, इटली, फ्रांस, चीन, भारत, कोरिया, सिरिया आदि मुस्लिम देशों की महत्वपूर्ण भूमिका रहेगी। हाॅरेसियां अमेरीका के टेक्सास शहर में रहते है। उन्होंने कहा कि उन्होंने सपने में आग के गोले को देखा जो आसमान से जमीन पर गिर रहे थे, चारों तरफ हाहाकार मचा हुआ था। हाॅरोसियां के अनुसार 13 मई से 13 अक्टोबर तक का समय विश्व युद्ध का है। देखना यह है कि क्या हम विश्व युद्ध की तरफ जा रहे हैं, और यदि जा रहे है, तो परिणाम व अंजाम भी सम्पूर्ण मानवता के लिए घातक हैं, प्रकृति भी कुछ विनाश के ही संकेत कर रही हैं। आने वाला समय काफी मुश्किलों से भरा हुआ रह सकता है।

Comments are closed.