पद्म विभूषण स्वामी श्री रामभद्राचार्य जी ने किया सरल ज्योतिष पुस्तक का विमोचन

IMG_20150530_154213

rambhadracharyaji
ख्याति प्राप्त ज्योतिर्विद व अज्ञातदर्शन के सम्पादक पं. रमेश भोजराज द्विवेदी की पुस्तक सरल ज्योतिष (शीघ्र बोध) का विमोचन पद्म विभूषण स्वामी रामभद्राचार्य जी महाराज ने हरिद्वार में किया।
स्वच्छ भारत अभियान के अध्यक्ष पद्म विभूषण व विकलांग विश्वविद्यालय के कुलाधिपति ने एक सादे समारोह में पं. रमेश भोजराज द्विवेदी की पुस्तक का विमोचन किया।
उन्हांेने कहा कि ज्योतिष सतत् साधना से साध्य है। युवा ज्योतिर्विद व मेरे अनुज इसके साधन में लगे हुए है। उन्होंने पुस्तक विमोचन करते हुए कहा कि पुस्तक में प्रस्तुत ज्योतिषीय सन्दर्भो से आमजन को लाभ होगा। ज्योतिष जन-जन के जीवन का हिस्सा बन गया है तथा वैदिक ज्ञान के माध्यम से ही भारत एक बार पुनः विश्वगुरू के रूप में प्रतिष्ठापित होगा।
पं. रमेश द्विवेदी ने बताया कि शीघ्र बोध नामक इस ग्रन्थ की बहुतायत में मांग थी । इसमें मुहूर्त, जन्मपत्री मिलान जातक, विचार, काल विज्ञान, शकुन विचार आदि अनेकानेक प्रकरणों पर विस्तार से चर्चा की गई है।
इस अवसर पर पद्म विभूषण स्वामी श्री रामभद्राचार्य जी महाराज ने पं. रमेश भोजराज द्विवेदी द्वारा किये जा रहे ज्योतिषीय कार्यो की भूरि-भूरि प्रंशसा की। उन्होंने कहा कि पं. रमेश भोजराज द्विवेदी ज्योतिष के लिए अनुपम कार्य कर रहे हैं, और मेरी शुभकामनाऐं उनके साथ है। इस अवसर पर वे अज्ञातदर्शन परिवार का हिस्सा बने, तथा उन्हांेने अज्ञातदर्शन का संरक्षण भी स्वीकार किया।

Comments are closed.